All rakshaks and complaints list in MAJHAULIA Block


 ALL RAKSHAKS IN MAJHAULIA


SL.NoNameGenderActive FromIssues

1

Akhileshwar kumar

male

14-May-2020

0

2

Ali azmi

male

12-Apr-2020

0

3

Bikesh kumar

male

12-May-2020

1

4

Guddu alam

male

10-Apr-2020

0

5

Jamil akhtar

male

10-Apr-2020

1

6

kundan kumar

male

21-Apr-2020

0

7

Md Faruk

male

05-May-2020

0

8

Mintu Kumar

male

05-Apr-2020

1

9

Nasim alam

male

12-Apr-2020

0

10

Neeraj Kumar

Male

16-Apr-2020

6

12

 LIST OF ALL ISSUES

   Show


SL.NoCategoryDescriptionAdded On

1

सरकारी सहायता नहीं

ग्राम पंचायत रूलही नीजामनत वार्ड नं 1,2,3 यहां पर को सरकारी स्कूल नहीं है छोटे छोटे बच्चों को बहुत दुर पढ़ने के लिए जाना पड़ता है। एक सरकारी स्कूल का पिंक निचे लोड कर रहा हूं इसी स्कूल में बच्चे काफी सालों से पढ़ रहे थे अब वह भी स्कूल नहीं है।

31-May-2020

2

सरकारी सहायता नहीं

ग्राम पंचायत रूलही नीजामनत वार्ड नं 1,2,3 यहां पर को सरकारी स्कूल नहीं है छोटे छोटे बच्चों को बहुत दुर पढ़ने के लिए जाना पड़ता है। एक सरकारी स्कूल का पिंक निचे लोड कर रहा हूं इसी स्कूल में बच्चे काफी सालों से पढ़ रहे थे अब वह भी स्कूल नहीं है।

31-May-2020

3

प्रवासी लोगों की समस्या

Plz help

12-May-2020

4

मेडिकल सुविधा का अभाव

ग्राम पंचायत रूलही नीजामनत पूरे पंचायत में एक भी मेडिकल सुविधा नहीं है कहीं भी कोई हॉस्पिटल नहीं है सरकारी न प्राइवेट, 🙏

23-Apr-2020

5

सरकारी सहायता नहीं

आज तक कोई भी सड़क गांव में नहीं है जो भी सड़क हैं वह कच्चा सड़क हैं और कुछ सड़क ईंट का खडजा है जो बहुत ही खराब स्थिति में है 🙏 गांव रूलही नीजामनत वार्ड नं वन।

21-Apr-2020

6

सरकारी सहायता नहीं

हमारे गांव में कोई सरकारी स्कूल नहीं है ग्राम पंचायत रूलही वार्ड नं वन

17-Apr-2020

7

सरकारी सहायता नहीं

ग्राम पंचायत रूलही वार्ड नं वन के वार्ड मेम्बर जितेन्द्र दास। यहां कोई सरकारी काम नहीं करते हैं और दो साल पहले नल की पाइप लाइन लगी थी जो आज तक कुछ भी नहीं हुआ और एक बात अभी कुछ दिन पहले किसी से पांच सौ रुपए किसी से तीन सौ रुपए लिए लिया था और बोला कि राशनकार्ड बनाने देंगे जब राशनकार्ड बनकर आ गया तो और पांच सौ रुपए मांग रहा है गांव कि महिलाएं इतना पढ़ी लिखी नही है इसके कारण जितेन्द्र दास उनसे हर सरकारी काम करने के लिए पैसा मांगता है इस गांव में ज्यादातर लोग बाहर रहते हैं ।और यह निचे दिए गए फोटो इसी गांव का है जो अभी कुछ दिन पहले दुसरे गांव में चला गया कितने सालों से यह सरकारी स्कूल ऐसा हि था अब इस गांव में कोई स्कूल नहीं है । आप लोग आए हैं तो एक नई उम्मीद दिखाई दे रहा है बिहार को जब-तक सही राज्य नेता नहीं मिलेगा तब तक बिहार का कुछ नहीं हो सकता हैं 🙏 अपील है कि इस गांव के लोगों के लिए कुछ करिए 👇 आप जब चाहे जहां चाहे वहां मुझे बुला लीजिएगा ।🙏 नीरज कुमार

16-Apr-2020

8

सरकारी सहायता नहीं

Yeha pe koi sarkari lahb nahi mila hai yeh pe koi sarkari fund aata hai to ghaw ka mukhiyeh sab le leta hai is liyeh hamne ek tim banayeh hai ki sab ko raksha hona bahut jaruri hai

10-Apr-2020

9

अन्य

Fg

05-Apr-2020



Copyright Bihar Ke Rakshak 2020